ads

Hardik Pandya को लेकर पूर्व सलेक्टर ने कहा, 'वो टीम में खेलने के हकदार नहीं'

 

नई दिल्ली। टीम इंडिया अगले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) में फाइनल में भिड़ेगी। इसके लिए टीम इंडिया का ऐलान हो चुका है। लेकिन ऑलरांउडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को टीम में जगह नहीं मिली है। ऐसे क्रिकेट के दिग्गज अपनी—अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें—Ben Stokes ने किया साफ मना, राजस्थान रॉयल्स के लिए नहीं खेलेंगे IPL 2021 के बचे हुए मैच

सरनदीप ने किया चयनकर्ताओं का समर्थन
भारत के पूर्व चयनकर्ता सरनदीप सिंह ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए चुनी गई टीम इंडिया में हार्दिक पांड्या को शामिल नहीं करने पर चयनकर्ताओं का समर्थन किया है। उनका कहना है कि अगर छोटे प्रारूप में खिलाड़ी अगर गेंदबाजी में योगदान नहीं दे सकता है तो वह छोटे प्रारूप में खेलने का हकदार नहीं है। ऐसे में हार्दिक को चयनकर्ताओं द्वारा टेस्ट टीम में नहीं चुना जाना मेरी समझ से बाहर है।

पीठ दर्द से परेशान हैं हार्दिक
हार्दिक पांड्या की वर्ष 2019 में पीठ की सर्जरी हुई थी। इसके बाद से वह नियमित रूप से गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं और ऐसे में टीम को उनके ऑलराउंड प्रदर्शन का फायदा नहीं मिल रहा है। इसी वजह के चलते उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ टीम में जगह नहीं मिली।

टीम के संतुलन गड़बड़ा जाता है
सरनदीप का कहना है कि हार्दिक के गेंदबाजी नहीं करने से टीम का संतुलन गड़बड़ा जाता है और सूर्यकुमार जैसे बल्लेबाज को बाहर बिठाना पड़ता है। हार्दिक को खिलाने के चलते एक अतिरिक्त गेंदबाज को लेना लाजमी हो जाता है क्योंकि केवल 5 गेंदबाजों के साथ टीम नहीं उतर सकती। टीम में वॉशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, रवींद्र जड़ेजा जैसे ऑलराउंडरद मौजूद हैं और शार्दुल बखूबी हार्दिक पांड्या का किरदार निभाने में सक्षम हैं।

यह भी पढ़ें— 24 साल के बल्लेबाज की नेट सेशन के दौरान अचानक हुई मौत से सदमे में क्रिकेट जगत

शॉ को ना लेने से हैरान हूं
आईपीएल में धांसू प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी पृथ्वी शॉ को टीम में शामिल नहीं किए जाने से सरनदीप हैरान हैं। उनका कहना है कि शॉ में वीरेंद्र सहवाग जैसी क्षमता है। उनके कॅरियर को इतना जल्दी नदरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद टीम से बाहर होने के बाद घरेलू क्रिकेट में काफी रन बनाए। उन्होंने अपनी तकनीकी खामियों को भी ठीक किया है और इसे आईपीएल में भी देखा जा सकता था।’



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/3ogYRoD

Post a Comment

0 Comments