ads

100 किलो वजन वाले आजम खान के सपोर्ट में आए डुप्लेसिस, कहा- सफलता के लिए सिक्स पैक जरूरी नहीं

पाकिस्तान की टी20 टीम में पूर्व क्रिकेटर मोईन खान के बेटे आजम खान का सलेक्शन होने के बाद उनकी फिटनेस को लेकर सवाल उठ रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि आजम खान का वजन बहुत ज्यादा है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि टीम में चयन उनके पिता मोईन खान की वजह से हुआ है। इस बीच दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान फाफ डु प्लेसिस, आजम खान के सपोर्ट मेें आ गए हैं। उनका कहना है कि क्रिकेट में सफल होने के लिए जरूरी नहीं है कि हर खिलाड़ी केि सिक्स पैक एब्स हों। प्लेसिस का बयान ऐसे समय में आया है जब कई लोगों ने आजम खान के चयन पर सवाल उठाते उन्हें अनफिट बताया और कहा कि उनका चयन पिता के प्रभाव के कारण हुआ है।

पीएसएल में एक ही टीम में खेलते हैं दोनों
पाकिस्तान सुपर लीग में फाफ डु प्लेसिस क्वेटा ग्लेडिएटर्स टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। वहीं 100 किलो वजन वाले आजम खान भी इसी टीम का हिस्सा हैं। डु प्लेसिस का कहना है कि बात जब फिटनेस की आती है तो हर व्यक्ति की जिम्मेदारी होती है कि उसमें सुधार करे और हर दिन कोशिश करे। साथ ही उनका कहना है कि सभी व्यक्ति एक दूसरे से अलग होते हैं। वहीं प्लेसिस ने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि वह उम्र बढ़ने के बाद भी यह सोचना बंद नहीं करते कि एक क्रिकेटर के रूप में खुद को कैसे सुधार सकते हैं। अपने शरीर और दिमाग को कैसे सुधार सकता हूं।

यह भी पढ़ें— पाकिस्तान टीम में आजम खान के सलेक्शन पर फैंस नाराज, कहा- पिता की वजह से हुआ

azam_khan.png

अलग-अलग लोगों की तुलना करना अनुचित
इसके साथ ही प्लेसिस ने कहा कि आजम जैसे खिलाड़ी को उनके जैसा दिखाना जरूरी नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि वैसे भी अलग—अलग लोगों की तुलना करना अनुचित है। उनका कहना है कि आजम ऐसा खिलाड़ी है जो हमेशा बडे और आक्रामक शॉट लगाएगा और लंबा रास्ता तय करेगा। प्लेसिस का मानना है कि क्रिकेट में सफलता के लिए सिक्स पैक की जरूरत नहीं है। आपके पास जो है, उसी से काम करते हैं।

यह भी पढ़ें— विराट कोहली से तुलना करने पर बोले पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम-गर्व महसूस होता है...

फैंस ने जताई थी नाराजगी
आजम खान का पाकिस्तान क्रिकेट टीम में सलेक्शन किए जाने पर फैंस ने बोर्ड के फैसले को बिल्कुल गलत बताया। एक फैन ने लिखा कि आजम खान से ज्यादा टैलेंटेड खिलाड़ी तो घरेलू क्रिकेट में मौजूद हैं। ऐसे में बोर्ड ने आजम को चुनकर गलत फैसला लिया है। कई फैंस ने तो आजम खान को पर्ची खिलाड़ी तक करार दिया। पहले आजम खान का वजन 140 किलो था, लेकिन उन्होंने अपना वजन लगभग 32 किलो कम किया है। वहीं आजम को बड़े शॉट लगाने के लिए जाना जाता है। उन्होंने 36 टी-20 मैचों में 743 रन बनाए हैं और वह इस दौरान हर चौथी गेंद पर बाउंड्री लगाने में सफल रहे हैं।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/2RCKLC5

Post a Comment

0 Comments