ads

झूलन गोस्वामी ने कहा- शेफाली की अभी शुरुआत है, उस पर दबाव नहीं बनाएंगे

भारतीय महिला क्रिकेट टीम इस समय इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेल रही है। पहले मैच में टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा। इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीम ने यह मुकाबला बहुत आसानी से जीत लिया। इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे मैच से पहले टीम इंडिया की अनुभवी खिलाड़ी झूलन गोस्वामी ने कहा कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड सीरीज के आगामी मैचों के दौरान विभिन्न विकल्पों को आजमाना जारी रखेगी। इससे न्यूजीलैंड में अगले साल होने वाले महिला वर्ल्ड कप में टीम को फायदा मिलेगा। भारतीय महिला टीम अब तक वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत सकी है।

महिला बल्लेबाजों ने खेली 180 से अधिक डॉट बॉल
इंग्लैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में भारतीय महिला बल्लेबाजों ने करीब 180 से अधिक डॉट गेंद खेली। डॉट बॉल खेलने वालों में कप्तान मिताली राज, पूनम राउत और दीप्ति शर्मा जैसी बल्लेबाज शामिल थीं, जिन्हें रनों के लिए जूझना पड़ा। वहीं इंग्लैंड ने दो विकेट खोकर ही लक्ष्य को हासिल कर लिया और सीरीज में 1—0 से बढ़त हासिल कर ली। वहीं युवा बल्लेबाज शेफाली को लेकर उन्होंने कहा कि शेफाली का यह पहला मैच था। झूलन के अनुसार, शेफाली पर ज्यादा दबाव नहीं दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें— भारतीय महिला क्रिकेट टीम की स्टार खिलाड़ी शैफाली ने खेल में सुधार के लिए लिया पुरुषों के कैंप में हिस्सा

team_india.png

शेफाली की अभी शुरुआत
झूलन गोस्वामी का कहना है कि अभी शेफाली की शुरुआत है। उन्होंने अभी पर्दापर्ण किया है। ऐसे में उससे अधिक उम्मीद कर दबाव नहीं बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह शेफाली का पहला ही मैच था। हम उससे इतनी उम्मीदें कर रहे है, क्योंकि उसने अब तक काफी प्रभावित किया है। शेफाली ने पहले मैच में 15 रन ही बनाए थे। हालांकि झूलन इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि मध्य-क्रम लय हासिल कर प्रभावी प्रदर्शन करेगा। वहीं आगे की रणनीति पर झूलन ने कहा कि टीम के शीर्ष तीन बल्लेबाजों में से किसी एक से बड़ी पारी की जरूरत है।

यह भी पढ़ें— इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में डेब्यू कर शेफाली ने अपने नाम किया एक और नया रिकॉर्ड

गेंदबाजी में भी सुधार करने की जरूरत
झूलन गोस्वामी का मानना है कि टीम की गेंदबाजी में सुधार की जरूरत है। उनका कहना है कि पहले मैच में इंग्लैंड की टैमी ब्यूमोंट और नेट स्किवर ने बिना किसी परेशानी के लगभग 100 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए। झूलन ने कहा कि ईमानदारी से कहूं तो हमें एक गेंदबाजी इकाई के रूप में मजबूती से वापसी करने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा कि बहुत सी चीजों पर चर्चा की गई है और उम्मीद है कि हम इसे सुलझा लेंगे और मजबूती से वापसी करेंगे।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/3h27H7I

Post a Comment

0 Comments