ads

बुरे दिनों को याद करके इमोशनल हो गए Govinda, बताया-‘बंगले से चॉल में रहने को क्यों हुए थे मजबूर’

नई दिल्ली। बॉलीवुड के हीरो नंबर वन कहे जाने वाले गोविंदा भले ही आज शान-शौकत की जिंदगी जी रहे हैं, लेकिन एक समय ऐसा भी था जब उन्हें कई बड़े संघर्षो का सामना करना पड़ा था। और घर में हो रही आर्थिक परेशानी के चलते ही गोविंदा ने काफी कम उम्र में ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। गोविंदा ने हाल ही में टीवी पर आने वाले सिंगिंग रियलिटी शो में हिस्सा लिया था। इस दौरान गोविंदा ने बताया कि वे किस तरह से चॉल में रहकर जिंदगी बसर कर रहे थे।

Read More:- Madhuri Dixit को Kiss करते वक्त बेकाबू हो गए थे विनोद खन्ना, कर दी थी सारी हदें पार

Govinda talks about his financial struggle

छोड़ना पड़ा था बंगला

गोविंदा ने बताया कि पिता की फिल्में फ्लॉप होने के कारण परिवार को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा था। बचपन काफी मुश्किलों से गुजरा था।और इसी के चलते पिता भी बीमार रहने लगे और इसके बाद हमें कार्टर रोड के बंगले से निकलकर चॉल में जाकर रहना पड़ा।

गोविंदा ने कहा, 'कि जिंदगी से संघर्ष करना बुहत मुश्किल होता है। इस दौरान अपने लोग भी पाए हो जाते है। मैंने सुना और देखा भी था कि बच्चन सर के साथ क्या हुआ था, लेकिन ये अंदाजा नहीं था कि ये मेरे साथ भी होगा। वो इससे उबरे, ये मेरे लिए प्रेरणादायी था।'

Govinda talks about his financial struggle

गोविंदा ने शो में कहा, ' कि हमारी रोज सुबह की शुरूआत मां की खूबसूरत आवाज सुनकर ही होती थी। हम उनसे पूछा करते थे कि आप भगान से इतनी प्रार्थना क्यों करती हैं। मैंने कभी सोचा नहीं था कि कभी में इस चॉल से बाहर निकल पाऊंगा। ये सब कुछ इस कारण हुआ क्योंकि मेरी मां को मेरे ऊपर विश्वास था। हमारा अपना घर होना, सफल होना ये सभी मेरी मां की ही मेहनत और उनके आशीर्वाद का नतीजा है।

Read More:-इन मशहूर सितारों ने देखी थी अपने ही बच्चों की दर्दनाक मौत, एक स्टार का बेटा गिरा छत से...

Govinda talks about his financial struggle

गोविंदा ने कहा- 'मैं चंद भाग्यशाली लोगों में'

गोविंदा ने शो में कहा, 'मैं ये जरूर कहूंगा कि बहुत ही कम लोग ऐसे भाग्यशाली होते हैं जिन्हें अपने माता-पिता की सेवा करने का मौका मिलता है। मैं उन चंद भाग्यशाली लोगों में से हूं कि मुझे अपने माता-पिता की सेवा करने का मौका मिला। मैं वास्तव में आभारी हूं।' आपको बता दें कि गोविंदा के पिता अरुण आहूजा एक फिल्म प्रोड्यूसर थे। फिल्में फ्लॉप होने के कारण उनके पिता की आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा था।



Source बुरे दिनों को याद करके इमोशनल हो गए Govinda, बताया-‘बंगले से चॉल में रहने को क्यों हुए थे मजबूर’
https://ift.tt/2SuMmKw

Post a Comment

0 Comments