ads

राखी सावंत ने 50 रुपए के लिए अंबानी के घर में परोसा था खाना

नई दिल्ली। बॉलीवुड में ड्रामा क्लीन के नाम से पॉपुलर राखी सांवत आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। वह हर मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखती हैं। लेकिन कई सारे विवादों में भी उनका नाम आ चुका है। हालांकि, आज राखी इंडस्ट्री में अपने दम पर हैं। गरीबी से निकलकर उन्होंने ये मुकाम हासिल किया है। कई मौकों पर राखी ने अपने स्ट्रगल की कहानी सभी को बताई है।

पड़ोसी देते थे बचा हुआ खाना
राखी का जन्म 25 नवंबर, 1978 को मुंबई में हुआ था। उनका बचपन बेहद गरीबी में गुजरा। उनकी मां एक अस्पताल में आया का काम करती थीं और उनके पिता मुंबई पुलिस में कॉन्सटेबल थे। ऐसे में उनके परिवार का गुजारा बहुत मुश्किल से होता था। कभी-कभी तो उनके पास खाने के लिए भी नहीं होता था। उनके पड़ोसी उन्हें बचा हुआ खाना देते थे।

ये भी पढ़ें: बेहद खूबसूरत दिखती थीं शाहरुख खान की बड़ी बहन, देखें उनकी अनसीन फोटोज़

rakhi_sawant_1.png

50 रुपए के लिए परोसा खाना
राखी का बचपन कितना मुश्किल भरा था, इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने महज 10 साल की उम्र में काम करना शुरू कर दिया था। इतना ही नहीं, एक बार सिर्फ 50 रुपए के लिए राखी ने अनिल अंबानी और टीना अंबानी की शादी में खाना परोसना तक का काम किया है। 11 साल की उम्र में राखी ने डांडिया में नाचने की जिद की थी। जिस पर उनकी मां और मामा ने मिलकर उनके लंबे बालों को काट दिया था। लेकिन एक दिन फिल्म इंडस्ट्री में अपना नाम बनाने के लिए राखी घर से पैसे चुराकर भाग गई थीं। क्योंकि उनके माता-पिता उनकी शादी करवाना चाहते थे। हालांकि, उन्हें एक्टिंग के बारे में कुछ भी नहीं पता था।

ये भी पढ़ें: संजय दत्त की पत्नी मान्यता दत्त हैं बेहद ग्लैमरस, देखिए उनकी हॉट एंड बोल्ड फोटोज़

सर्जरी कराकर बदला रंग-रूप
राखी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि जब वह मुंबई पहुंचीं तो उन्होंने कई डायरेक्टर्स से संपर्क किया। इस दौरान उन्हें बुरी नजर से भी देखा गया। उन्होंने काम पाने के लिए कॉस्मेटिक सर्जरी से अपना रंग-रूप भी बदल दिया। लेकिन उन्हें जल्दी सफलता नहीं मिली। फिर साल 1997 में उन्हें फ़िल्म अग्निचक्र में काम करने का मौका मिला। इसके बाद वह 'जोरू का गुलाम', 'ये रास्ते हैं प्यार के', 'जिस देश में गंगा रहता है', 'मस्ती' और 'मैं हूं ना' जैसी कई फिल्मों में छोटे रोल्स में नजर आईं। लेकिन असली पहचान उन्हें साल 2005 में ‘परदेसिया’ गाने से मिली। इस गाने के बाद वह आइटम गर्ल के नाम से भी मशहूर हो गई थीं। फिर राखी ने बिग बॉस के पहले सीज़न में हिस्सा लिया था।



Source राखी सावंत ने 50 रुपए के लिए अंबानी के घर में परोसा था खाना
https://ift.tt/3zpQhby

Post a Comment

0 Comments