ads

जानिए वनडे क्रिकेट के वो पांच रिकॉर्ड जो कभी टूट नहीं पाएगें!

नई दिल्ली। खेल की दुनिया में रिकॉर्ड का बनना और टूटना कोई नई बात नहीं है। आए दिन नए रिकॉर्ड बन जाते हैं और पुराने रिकॉर्ड टूटते रहते हैं। आज हम बात कर रहे हैं एक दिवसीय क्रिकेट के उन तमाम रिकॉर्ड्स की जिनका आने वाले वक्त में टूटना मुश्किल लग रहा है। क्रिकेट ने हमें सचिन तेंदुलकर से लेकर सर डॉन ब्रैडमैन तक कई महान खिलाड़ी दिए हैं, जिनके नाम भी कई शानदार रिकॉर्ड कायम हैं। दरअसल खेल की दुनिया में नए कीर्तिमान स्थापित करना आसान काम नहीं है, फिर भी कई महान खिलाड़ी होते हैं जो ऐसे रिकॉर्ड कायम कर जाते हैं जिनका टूटना नामुमकिन सा लगता है। आइए आपको बताते हैं कौन से वह पांच रिकॉर्ड हैं, जो शायद कभी टूटेंगे नहीं।

1. सचिन तेंदुलकर- सबसे अधिक प्लेयर ऑफ द मैच अवार्ड

क्रिकेट की दुनिया की कोई भी रिकॉर्ड बुक बिना सचिन के नाम के पूरी नहीं होती। सचिन तेंदुलकर ने एक दिवसीय क्रिकेट के अपने शानदार करियर में सबसे अधिक 64 बार प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब अपने नाम किया है। सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले लगभग सभी नेशन के खिलाफ प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब जीता है।

इस सूची में दूसरे नंबर पर आते हैं श्रीलंका के पूर्व ओपनर सनथ जयसूर्या जिन्होंने कुल 48 बार प्लेयर ऑफ द मैच का ख़िताब अपने नाम किया है। दरअसल हम आपको बताते हैं कि सचिन तेंदुलकर के इस रिकॉर्ड को तोड़ना क्यों आसान नहीं है क्योंकि भारत के वर्तमान कैप्टन और शानदार बल्लेबाज विराट कोहली भी अभी तक केवल 36 बार प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब जीत पाए हैं।

joel garnar

2. जोएल गार्नर - वनडे में सबसे बेहतरीन इकॉनमी

बिग बर्ड के नाम से मशहूर वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज जोएल गार्नर के नाम एक शानदार रिकॉर्ड कायम है। गार्नर ने अपने एक दिवसीय करियर में 146 विकेट लिए हैं और 3.09 की इकॉनमी से रन खर्च किए हैं। किसी भी बॉलर की इकॉनमी जितनी कम होती हैं। वो उतना ही बेहतर बॉलर होता हैं। इकॉनमी से मतलब यहां उस बॉलर द्वारा प्रति ओवर खर्च किए गए रनों से होता है। गार्नर की इकॉनमी उन सभी गेंदबाजों से बेहतर है जिन्होंने 1000 से अधिक गेंदे फेंकी हों। बता दें कि जोएल गार्नर सन 1979 की वर्ल्ड कप विजेता वेस्टइंडीज टीम का हिस्सा थे।

यह खबर भी पढ़ें:— अद्भुत, अतुलनीय: शानदार रहा 'माही' की कप्तानी का सफर

misbah-ul-haq

3. मिस्बाह उल हक- बिना किसी शतक के सबसे ज्यादा रन

मिस्बाह उल हक पाकिस्तान के मिडिल ऑर्डर के सबसे शानदार बल्लेबाज रहे हैं। 2007 वर्ल्ड कप के बाद इंजमाम उल हक ने एक दिवसीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। तब पाकिस्तान टीम को एक अच्छे मिडल ऑर्डर बल्लेबाज की जरूरत थी, जिसकी तलाश मिस्बाह उल हक पर आकर खत्म हो गई थी। मिस्बाह ने अपने एकदिवसीय करियर में 162 वनडे मैचों में 43.41 की औसत से कुल 5122 रन बनाए लेकिन कभी भी देश के लिए शतक नही लगा पाए। ऐसा आने वाले वक्त में शायद ही कभी देखने को मिले।

Ricky ponting

4. रिकी पोंटिंग - बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच

रिकी पोंटिंग क्रिकेट की दुनिया में महान बल्लेबाज और सफल कप्तान के रूप में जाने जाते हैं। रिकी पोंटिंग ने कुल 375 मैच खेले हैं उनमें से 230 मैचों में वे बतौर कप्तान मैदान पर उतरे हैं। यह क्रिकेट के इतिहास में किसी भी खिलाड़ी के बतौर कप्तान सबसे ज्यादा मैच हैं।

इस सूची में दूसरे नंबर पर न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग उन्होंने बतौर कप्तान 218 मैच खेले हैं।

Rohit sharma

5. रोहित शर्मा- एक पारी में सबसे ज्यादा रन

हिटमैन के नाम से मशहूर भारत के स्टार ओपनर रोहित शर्मा के नाम वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। रोहित शर्मा ने 2014 में श्रीलंका के खिलाफ 264 रन बनाए थे। यह रिकॉर्ड टूटना नामुनकिन सा है। बता दे की रोहित शर्मा तीन बार दोहरा शतक लगा चुके हैं।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/2VUj0qn

Post a Comment

0 Comments