ads

एक्टर नहीं डायरेक्टर बनना था सलमान खान का पहला सपना, स्क्रिप्ट लेकर दर दर भटका किया करते थे दंबग हीरो

वांटेड , दबंग मैने प्यार किया, बजरंगी भाईजान, टाइगर जिंदा है जैसी बेहतरीन फिल्मों में लीड एक्टर का रोल निभाने वाले सलमान खान को कौन नहीं जानता। सलमान खान बॉलीवुड के जाने-माने सितारे और देश के सुपरस्टार में गिने जाते हैं। सलमान खान का स्टारडम देखते ही बनता है। सलमान खान की फैन फॉलोइंग इस हद तक है कि इसकी तुलना नहीं की जा सकती। वहीं कुछ फैन तो सलमान को भगवान की तरह मानते हैं पर बहुत ही कम लोग जानते हैं कि सलमान खान का पहला सपना सुपरस्टार नहीं बल्कि डायरेक्टर बनने का था। सलमान खान बचपन से ही जानते थे कि उन्हें लाइफ में क्या करना है। सलमान खान डायरेक्ट बनने का सपना अपनी आंखों में पाले बैठे थे। कैमरे के पीछे रहकर वे अपना नाम कमाना चाहते थे, तो आइए बताते हैं आपको सलमान खान के डायरेक्टर बनने का पूरा किस्सा।

एक्टिंग में अपना हाथ अजमाने से पहले मैं असिस्टेंट था और उससे पहले मैं मॉडलिंग किया करता था और यह उस वक्त की बात है जब ना मेरे पास हाइट हुआ करती थी और ना ही बॉडी और कोई पर्सनैलिटी भी नहीं थी। उस वक्त में मोहल्ले का दादा, पुलिस इंस्पेक्टर, लोहे जैसी फिल्में बना करती थी, जिसमें मेरे फिट होने का कोई चांस ही नहीं रहता था। आगे सलमान खान बताते हैं कि उस दौर में मैं बतौर हीरो परफेक्ट नहीं हुआ करता था। मेरा वजन उस वक्त 48 किलो था। जब भी मैं स्क्रिप्ट लेकर जिस किसी के पास भी जाता था उनसे मुझे सिर्फ यही सुनने मिलता था कि तुम अभी यंग हो एक्टिंग में क्यों नहीं ट्राई करते। लेकिन मैं फिर भी अपनी स्क्रिप्ट लेकर दरबदर भटकता रहता था और पूरी कोशिश किया करता था कि कहीं तो मुझे डायरेक्टर बनने का चांस मिल जाए।

ये भी पढ़े- कभी बॉलीवुड की शान कहे जाने वाले ये एक्टर्स अपनी जिंदगी के आखिरी दिनों में हुए एक-एक पैसे को मोहताज, हुई खौफनाक मौत

salman-khan.jpg

वहीं कुछ समय बाद ‘बीवी हो तो ऐसी’ फिल्म का मुझे ऑफर आया, जिसकी स्क्रिप्ट को सुनकर मैंने उसे तुरंत साइन कर दिया। फिल्म की कहानी काफी अच्छी लगी थी, वही जब इस फिल्म का काम मैंने देखा तो मैंने यही दुआ मांगी थी इस फिल्म को कोई ना देखें क्योंकि मैं बहुत बुरा दिख रहा था। इसके बाद मैंने मैंने प्यार किया।बता दें कि एक इंटरव्यू के दौरान सलमान खान के पिता सलीम खान ने कहा था कि वह अपनी तीनों बेटों में से किसी एक बेटे को क्रिकेटर बनाना चाहते थे। सलीम खान ने बताया था कि उनके पूरे परिवार को क्रिकेट देखने का बड़ा शौक है और वह इसमें काफी इंटरेस्ट भी रखते हैं, लेकिन उनका यह ख्वाब ख्वाब ही रह गया।



Source एक्टर नहीं डायरेक्टर बनना था सलमान खान का पहला सपना, स्क्रिप्ट लेकर दर दर भटका किया करते थे दंबग हीरो
https://ift.tt/3mvYNCA

Post a Comment

0 Comments