ads

IND vs ENG: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान वॉन ने टेस्ट मैच रद्द होने पर उठाए सवाल, कहा-यह सब पैसे और IPL के लिए हुआ

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का अंतिम और पांचवां टेस्ट मैच मैनचेस्टर में 10 सितंबर से खेला जाना था। हालांकि टीम इंडिया के कोचिंग स्टाफ के एक सदस्य के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद मैच को रद्द कर दिया गया। इसके बाद ईसीबी ने बयान देतें हुए कहा कि भारतीय खिलाड़ी खेलने को तैयार नहीं थे। वहीं इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग को फायदा पहुुंचाने के लिए टेस्ट सीरीज का पांचवां मैच रद्द किया गया। वॉन का कहना है कि टीम इंडिया के खिलाड़ियों को पीसीआर टेस्ट पर भरोसा करना चाहिए था।

पैसे और आईपीएल के लिए हुआ यह सब
माइकल वॉन ने द टेलीग्राफ के लिए लिखे अपने कॉलम में कहा है कि ईमानदारी से कहूं तो यह सब पैसे और आईपीएल को लेकर हुआ है। टेस्ट रद्द कर दिया गया है क्योंकि खिलाड़ियों को कोरोना संक्रमण के खतरे और आईपीएल को मिस करने से डर लग रहा होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि एक हफ्ते में आईपीएल में सभी खिलाड़ी खुश नजर आएंगे और इधर—उधर दौड़ते दिखेंगे। वॉन का कहना है कि कोरोना वायरस के बारे में अब सबकुछ जानते हैं तो उन्हें पीसीआर टेस्ट पर भरोसा रखना चाहिए था। वॉन का कहना है कि अब इस वायरस को बेहतर तरीके से प्रबंधित और संभालना जानते हैं।

यह भी पढ़ें— IPL 2021: दूसरे चरण में सीएसके के इन खिलाड़ियों पर रहेगी सभी की नजरें, पहले चरण में किया था बेहतरीन प्रदर्शन

team_india_1.png

'टीम इंडिया 20 में से 11 खिलाड़ियों को नहीं उतार सका'
माइकल वॉन ने टीम इंडिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि आश्चर्य की बात है कि भारत मैच खेलने के लिए 20 सदस्यीय टीम के 11 खिलाड़ियों को नहीं उतार सका। उन्होंने कहा कि अगर कुछ ऐसे खिलाड़ी थे जो मैच नहीं खेलना चाहते थे तो ठीक है लेकिन टीम इंडिया को मैच के लिए अपने 11 खिलाड़ियों को उतारने की पूरी कोशिश करनी चाहिए थी भले ही इसका मतलब तीसरी स्ट्रिंग टीम चुनना ही क्यों न हो। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में बहुत सारे रिजर्व खिलाड़ियों के साथ जीत हासिल की थी।

यह भी पढ़ें— IPL 2021 : जानें राजस्थान रॉयल्स दूसरे हाफ में कब, किसके साथ और कहां खेलेंगी मैच

'क्रिकेट को इस टेस्ट मैच की जरूरत थी'
वॉन ने कहा कि टीम इंडिया को इस खेल में अपनी भूमिका निभानी चाहिए थी, जैसे इंग्लैंड को पिछले साल दक्षिण अफ्रीका में अपने मुकाबलों को पूरा करना चाहिए था। साथ ही उनका कहना है कि जब गुरुवार की रात टीम इंडिया के सभी पीसीआर टेस्ट नेगेटिव आए तो मैच आगे बढ़ना चाहिए था। क्रिकेट के खेल को इस टेस्ट मैच की जरूरत थी। उनका कहना है कि सीरीज शानदार ढंग से तैयार की गई थी। यह सही नहीं था कि टॉस से 90 मिनट पहले एक टेस्ट मैच रद्द किया जा सकता है।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/3A5B2Fc

Post a Comment

0 Comments