ads

T20 वर्ल्ड कप में धोनी को मेंटॉर बनाने से टीम इंडिया को होंगे ये 5 फायदे

टी20 वर्ल्डकप 2021 अगले माह अक्टूबर से संयुक्त अरब अमीरात में शुरू होने जा रहे हैं। कई देशों के क्रिकेट बोर्ड ने टी20 वर्ल्डकप के लिए अपनी टीमों की घोषणा कर दी है। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने बुधवार को टी20 वर्ल्डकप 2021 के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया। भारतीय चयनकर्ताओं ने विराट कोहली की अगुवाई में संतुलित टीम चुनी है। टी20 वर्ल्डकप के लिए चयनकर्ताओं ने जो टीम चुनी उसमें युवा खिलाड़ियों के साथ अनुभवी खिलाड़ियों को भी जगह दी गई है। रविचंद्रन अश्विन को 4 साल बाद टी20 टीम में चुना गया है। इसके अलावा टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को टी20 वर्ल्डकप के लिए मेंटॉर बनाया गया है। धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने कई बड़े टूर्नामेंट जीते हैं और अब टी20 वर्ल्डकप में उन्हें मेंटॉर बनाए जाने से टीम को काफी फायदा होगा।

टी20 में धोनी का बेहतरीन अनुभव
टी20 क्रिकेट की बात करें तो महेन्द्र सिंह धोनी को काफी अच्छा अनुभव है और उनका यह अनुभव टी20 वर्ल्डकप में टीम के बहुत काम आएगा। धोनी ने 98 टी20 इंटरनेशनल और 211 आईपीएल मैच खेले हैं। इनमें बतौर कप्तान और विकेटकीपर उन्होंने कई बेहतरीन फैसले लेकर टीम को कई मैचों में जीत दिलाई है। ऐसे में टी20 वर्ल्डकप में धोनी का यह अनुभव टीम इंडिया को जीत दिलाने में मदद करेगा।

यह भी पढ़ें— BCCI का बड़ा फैसला, T20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के मेंटर होंगे एमएस धोनी

रणनीति बनाने में मिलेगी मदद:
टी20 वर्ल्ड कप में मैच के दौरान रणनीति बनाने में धोनी का अनुभव काफी काम आ सकता है। धोनी के पास 15 साल इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का अनुभव है। इसके साथ ही धोनी के पास टी20 वर्ल्ड कप में 6 बार टीम इंडिया की कप्तानी करने का भी अनुभव है। धोनी अच्छी तरह से जानते हैं कि कब,किस परिस्थिति में किस गेम प्लान को लागू करना है।

dhoni.png

कप्तान विराट कोहली को मिलेगी मदद
विराट कोहली वैसे तो अनुभवी खिलाड़ी हैं, लेकिन टी20 वर्ल्डकप में पहली बार कोहली टीम की कमान संभालेंगे। ऐसे में कोहली को बतौर कप्तान धोनी से काफी मदद मिलेगी। जब धोनी टीम इंडिया में थे तो कप्तानी के दौरान कई बार कोहली की मदद की। मुश्किल स्थिति में धोनी कई बार कमान अपने हाथ में ले लेते थे। टी20 वर्ल्डकप में मैच के दौरान धोनी खिलाड़ियों के जरिए अपनी सलाह कोहली तक पहुंचा सकेंगे।

यह भी पढ़ें— T20 World Cup 2021: 12 टीमों के बीच 28 दिनों तक होंगे मुकाबले, जानिए टीम इंडिया कब किससे भिड़ेगी

बैटिंग ऑर्डर तय करने में मदद:
धोनी को हर खिलाड़ी के खेल और उनकी काबीलियत की अच्छी तरह से परख है। किस खिलाड़ी का कब, कहां और कैसे उपयोग करना है ये वो अच्छी तरह जानते हैं। ऐसे में धोनी का यह अनुभव टीम के सीनियर और जूनियर दोनों खिलाड़ियों के लिए उपयोगी साबित होगा। वहीं बैटिंग ऑर्डर तय करने में भी धोनी की सलाह काफी काम आ सकती है। किस बल्लेबाज को किस मौके पर भेजना है इसमें धोनी की सलाह काफी काम आएगी।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/3tvdVkX

Post a Comment

0 Comments