ads

T20 World cup 2021: एमएसके प्रसाद बोले-शिखर धवन को भी टीम में रखा जा सकता था

बीसीसीआई ने बुधवार को अगले महीने से होने वाले टी20 विश्वकप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम चुनी जिसमें सलामी बल्लेबाज शिखर धवन का नाम नहीं था। उनकी जगह युवा बल्लेबाज ईशान किशन को टीम में शामिल किया गया। बीसीसीआई के पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने गुरुवार को कहा कि धवन जिस फॉर्म में थे, उसे देखते हुए उन्होंने सोचा कि अनुभवी सलामी बल्लेबाज के पास एक मौका था टी20 विश्व कप में खेलने का जो कि 17 अक्टूबर से यूएई और ओमान में खेला जाएगा।

एमएसके ने न्यूज एजेंसी से से कहा कि यह एक संतुलित टीम है। साथ ही उन्होंने कहा कि हाल ही में शिखर जिस फॉर्म में थे, उसे देखते हुए लगता है कि उनके पास एक अवसर था। प्रसाद ने यह भी कहा कि एक अलग पक्ष को देखें तो किशन को एक फ्लोटर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है और वह उस जगह के हकदार हैं, लेकिन फिर भी लगता है कि शिखर को भी टीम में रखा जा सकता था।

धोनी को मेंटॉर बनाए से प्रसाद खुश
46 वर्षीय एमएसके ने 2016 से 2020 तक मुख्य राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में काम किया था। महेंद्र सिंह धोनी को टीम में मुख्य कोच रवि शास्त्री के साथ टीम के मेंटर के रूप में शामिल करने के निर्णय से भी एमएसके खुश हैं। एमएसके ने कहा पूर्व कप्तान धोनी टीम में सभी को जानते हैं। उन्होंने कहा, 'धोनी को मेंटर के रूप में चुनना एक अद्भुत निर्णय है। उनके शामिल होने से टीम प्रबंधन को फायदा होगा क्योंकि माही हर किसी के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं।

यह भी पढ़ें— BCCI का बड़ा फैसला, T20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के मेंटर होंगे एमएस धोनी

msk_prasad.png

'चाहर को चुनना सही निर्णय'
एमएसके भी रविचंद्रन अश्विन, राहुल चाहर, अक्षर पटेल, वरुण चक्रवर्ती और रवींद्र जडेजा को विश्व टी20 के लिए चुने गए स्पिनरों के पक्ष में हैं। उन्होंने विशेष रूप से बताया कि युजवेंद्र चहल के बजाय एक अनुभवी अश्विन और इन-फॉर्म चाहर को चुनना सही निर्णय था। एमएसके ने कहा, अश्विन का अनुभव और वह भी एशियाई परिस्थितियों में खेलना निश्चित रूप से टीम के लिए फायदेमंद होगा। अश्विन पिछले कुछ आईपीएल से अच्छी फॉर्म में है। विशेष रूप से दुबई में पिछले आईपीएल के दौरान उन्होंने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया था। दुबई में आईपीएल के एक और चरण के साथ विश्व कप से ठीक पहले निश्चित रूप से मदद मिलेगी, उनका अनुभव स्पिन विभाग को मजबूती देगा।

यह भी पढ़ें— T20 World Cup 2021: 12 टीमों के बीच 28 दिनों तक होंगे मुकाबले, जानिए टीम इंडिया कब किससे भिड़ेगी

'चहल टी20 के विशेषज्ञ रहे हैं'
एमएसके ने भारत के लिए 6 टेस्ट और 17 एकदिवसीय मैच खेले हैं। एमएसके ने चहल के बारे में कहा, वह वास्तव में निराश होंगे क्योंकि वह एक टी20 विशेषज्ञ रहे हैं, लेकिन अगर आप आईपीएल के पिछले चरण में चाहर के साथ उनके फॉर्म की तुलना करते हैं तो शायद चहल अधिक महंगे साबित हुए थे और चाहर ने मुंबई इंडियंस को लगातार दो आईपीएल जीताने में अहम भूमिका निभाई थी।



Source Patrika : India's Leading Hindi News Portal
https://ift.tt/3tsetbf

Post a Comment

0 Comments