ads

ऐसे रातोंरात सिंगिग स्टार बने थे उदित नारायण, भोजपुरी गाने आए थे पर मिल गया ‘पापा कहते हैं’ गाने का मौका

नई दिल्ली: सिंगर उदित नारायण बॉलीवुड इंडस्ट्री के जाने माने गायक है। उदित नारायण का फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ में गाया ‘पापा कहते हैं’ आज भी लोगों की जुबान पर रहता है। इस गाने ने उदित नारायण को रातोंरात बॉलीवुड इंडस्ट्री और लोगों में फेमस कर दिया था। क्या आप जानते हैं कैसे नेपाली फिल्मों में काम करने वाले उदित नारायण का सितारा चमक गया और भोजपुरी में गाने आए लेकिन ‘पापा कहते हैं’ गाने का मौका मिल गया। आइये जानते हैं इस स्टोरी के बारे में।

सभी जानते हैं कि उदित नारायण को साल 1988 में रिलीज हुई फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ में गाए गाने की वजह बॉलीवुड इंडस्ट्री में पहचान मिली थी। इस फिल्म के म्यूजिक डायरेक्टर मिलिंद चित्रगुप्त और आनंद चित्रगुप्त थे। ये बात उन दिनों की है जब उदित नारायण काफी स्ट्रगल कर रहे थे। अपना खर्चा चलाने के लिए होटल में भी गाने गाया करते थे। हालांकि राजेश रोशन ने उन्हें एक फिल्म में रफी और ऊषा मंगेशकर के साथ गाना गाने का मौका दिया था। फिर भी उनका स्ट्रगल जारी रहा।

फिर एक दिन उनकी मुलाकात गीतकार अंजान से हुई, उन्होंने उदित को म्यूजिक डायरेक्टर चित्रगुप्त से मिलवाया। इस तरह उदित को एक भोजपुरी फिल्म में गाने का मौका मिला। उसी वक्त चित्रगुप्त ने उदित नारायण को अपने बेटों आनंद और मिलिंद से मिलवाया था। मिलिंद चित्रगुप्त और आनंद चित्रगुप्त ‘कयामत से कयामत तक’ का म्यूजिक कर रहे थे। उन्हें भी उदित की आवाज पसंद आ गई। इसके बाद उदित नारायण को ‘पापा कहते हैं..गाना गाने के मौका दिया गया।

इस गाने के बाद उदित नारायण रातों-रात बॉलीवुड इंडस्ट्री के सिंगिग स्टार बन गए थे। अगर आज भी उदित नारायण से उनका प्रिय गाना पूछा जाए तो वह इसी गाने का नाम बताते हैं।

बता दें कि इस गाने के लिए उन्हें पहली बार सर्वश्रेष्ठ प्लेबैक सिंगिंग के लिए फिल्मफेयर अवार्ड मिला। इसके बाद उन्होंने हिंदी सिनेमा के कई बेहतरीन संगीत निर्देशकों के साथ काम किया। उन्होंने मशहूर संगीतकारों जैसे ए. आर. रहमान, आर. डी. बर्मन, जगजीत सिंह, विशाल भारद्वाज आदि के साथ काम किया। उदित नारायण ने दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, राजा हिंदुस्तानी, हम दिल दे चुके सनम, लगान, स्वदेश जैसी कई हिट फिल्मों के लिए गाने गाए।

आपको बता दें कि नेपाल में जन्मे उदित नारायण ने नेपाली फिल्मों से ही अपना करियर शुरू करने के बाद 70 के दशक में मुंबई के भारतीय विद्या भवन से शास्त्रीय संगीत सीखने के लिए आए थे। उदित नारायण अबतक 34 भाषाओं में 25 हजार से ज्यादा गाने गा चुके हैं। फिलहाल उदित भोजपुरी गाने ज्यादा गाते हैं। उनकी प्रोडक्शन कंपनी भोजपुरी और मैथिली फिल्में बनाती है।



Source ऐसे रातोंरात सिंगिग स्टार बने थे उदित नारायण, भोजपुरी गाने आए थे पर मिल गया ‘पापा कहते हैं’ गाने का मौका
https://ift.tt/3DB2jBn

Post a Comment

0 Comments